जानिए Inside Story, सात दिनों के बीच छुपा था सुशांत की मौत का राज

  • लॉकडाउन में साथ-साथ रहे रिया और सुशांत
  • दिशा की मौत से परेशान थे सुशांत, रिया ने भी डराया था
  • मौत से पहले सुशांत ने अपनी बहन को बताई थी परेशानी

सात दिनों के बीच छुपा था सुशांत की मौत का राज

कोरोना की वजह से मुंबई में भी लॉकडाउन था. शूटिंग भी बंद. घर के बाहर आना-जाना भी बंद. पर फिर भी सात जून की रात तक सब कुछ ठीक था. सुशांत अपनी गर्लफ्रैंड रिया के साथ एक ही घर में रह रहे थे. रिया को साथ रहते अब तक तीन महीने हो चुके थे. मगर आठ जून की सुबह अचानक एक ऐसी खबर आती है कि सुशांत अचानक परेशान हो उठते हैं. फिर रिया और सुशांत में झगड़ा होता है. और रिया अपना सारा सामान लेकर सुशांत के घर से निकल जाती हैं.

7 जून 2020

उस रात तक सब कुछ ठीक था. सुशांत सिंह राजपूत अपने घर में बिल्कुल सामान्य थे. उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती मार्च से उनके साथ इसी घर में रह रही थी. लॉक डाउन के चलते शूटिंग बंद थी और बाहर आना जाना भी बंद था. सुशांत के तीनों मुलाज़िम और उनका दोस्त घर के ग्राउंड फ्लोर पर रहते थे, जबकि सुशांत और रिया फर्स्ट फ्लोर पर.

8 जून 2020

सुबह-सुबह सुशांत को पता चलता है कि उनकी पूर्व सेक्रेटरी दिशा सालियान ने मलाड के जनकल्याण नगर की एक सोसायटी की 14वीं मंज़िल से कूदकर खुदकुशी कर ली. दिशा को सुशांत और रिया दोनों अच्छे से जानते थे. बल्कि दिशा को सुशांत से मिलवाने वाली ही रिया थी. दिशा ने जब खुदकुशी की तब उसका मंगेतर उसके साथ था. दिशा की खुदकुशी की खबर से सुशांत हैरान थे.

दिशा की मौत की खबर मिलने के बाद अचानक घर का माहौल बदल जाता है. रिया और सुशांत के बीच झगड़ा होता है. फिर दोपहर होते-होते रिया जो पिछले तीन महीने से सुशांत के साथ रह रही थी, अपना सामान लेकर घर छोड़ देती है. वो ये कह कर जाती है कि अब फिर कभी नहीं आएगी. इतना ही नहीं घर से निकलते ही वो सुशांत का नंबर भी ब्लॉक कर देती है. पूर्व सेक्रेटरी की खुदकुशी और रिया का झगड़ा कर घर से निकल जाना सुशांत को परेशान कर देता है. सुशांत मुंबई में रहने वाली अपनी बहन मीतू को फोन करते हैं. मीतू सुशांत को समझाती हैं और फोन पर ही इस सदमे से उबारने की कोशिश करती हैं.

9 जून 2020

सुबह अखबारों में सुशांत की पूर्व सेक्रेटरी की खुदकुशी की खबर भी छप चुकी थी. खबर में सुशांत का भी नाम था. सुशांत और ज़्यादा परेशान हो उठते हैं. मीतू को फोन करते हैं. मीतू भाई को परेशान देख सुशांत के घर पहुंच जाती है. इस दौरान सुशांत मीतू को रिया के साथ हुए झगड़े के बारे में भी सारी बातें बता देते हैं. दिशा की मौत और रिया का घर से झगड़ा कर जाना सुशांत को बेहद परेशान कर देता है.

सुशांत को परेशान देख मीतू अमेरिका में रहने वाली अपनी बहन श्वेता से बात करती है. वो उसे दिशा की खुदकुशी और रिया के झगड़े के बारे में भी बताती है. ये जानने के बाद श्वेता अमेरिका से 9 जून की रात को सुशांत को व्हाट्स एप करती है. और सुशांत से उसके पास अमेरिका आने के लिए कहती है. श्वेता के इस व्हाट्स एप का जवाब सुशांत 10 जून की सुबह देते हैं. और लिखते हैं कि मेरा भी बहुत मन करता है दी. इस व्हाट्स एप चैट का स्क्रीन शॉट खुद श्वेता ने शेयर किया है.

12 जून 2020

तीन दिन तक सुशांत के साथ रहने के बाद मीतू अपने भाई को समझा बुझा कर वापस अपने घर लौट जाती है. दरअसल मीतू के बच्चे छोटे हैं, इसीलिए बच्चों के पास भी जाना ज़रूरी था. और जाने से पहले मीतू ने सुशांत को अच्छी तरह समझा बुझा दिया था.

14 जून 2020

लेकिन मीतू के जाने के दो दिन बाद ही 14 जून की दोपहर सुशांत की लाश उनके बेडरूम में पंखे से झूलती मिलती है. सुशांत के मुलाज़िम ने कमरे का दरवाज़ा ना खोलने पर सबसे पहला कॉल मीतू को ही किया था. मीतू भाग कर घर पहुंची और फिर मीतू के सामने ही ताले वाले ने कमरे का दरवाज़ा खोला.

8 जून से 14 जून के बीच छुपा था राज

यानी कुल मिलाकर सुशांत की मौत की कहानी का असली सच 8 जून से 14 जून के बीच ही छुपा था. जिसकी शुरुआत पूर्व सेक्रेटरी की खुदकुशी से हुई थी. तो क्या दिशा की खुदकुशी सुशांत की मौत की वजह बनी? या दिशा की खुदकुशी के बाद रिया का घर छोड़ कर जाना? तो इस सच को समझने के लिए एक बार फिर से 8 जून यानी दिशा की खुदकुशी के दिन की पूरी कहानी समझनी ज़रूरी है.

दिशा सुशांत की पूर्व सेक्रेटरी थी. वो एक ऐसी कंपनी में काम करती थी जो सेलिब्रिटीज़ के काम देखा करती थी. रिया के जरिए उस कंपनी ने दिशा को सुशांत का मैनेजर बना कर भेजा था. मगर बाद में किसी वजह से दिशा ने वो कंपनी छोड़ दी. कंपनी छोड़ते ही सुशांत के साथ दिशा का कांट्रेक्ट भी अपने आप खत्म हो गया. अब दिशा का सुशांत से कोई लेना-देना नहीं था.

8 जून की उस कहानी को समझने के लिए सुशांत के पिता की ओर से पटना में लिखाई गई एफआईआर की इन लाइनों को पढ़ना ज़रूरी है. दरअसल, एफआईआर भले ही सुशांत के पिता ने लिखाई हो मगर एफआईआर में 8 जून वाली ये बात मीतू ने अपने पिता को बताई थी. 9 जून से 12 जून तक जब मीतू सुशांत के साथ उसके घर में थी, तब सुशांत ने कई बार मीतू से कहा था कि उसे डर है कि दिशा की खुदकुशी में रिया उसे फंसा ना दे. इसी बात से सुशांत सबसे ज़्यादा परेशान थे.

अब सवाल ये है कि रिया चक्रवर्ती दिशा की खुदकुशी के केस में सुशांत को क्यों फंसाना चाहती थी? हालांकि मुंबई पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक दिशा की खुदकुशी के मामले में दिशा के परिवारवालों ने कभी किसी पर शक नहीं जताया. पुलिस की जांच में जो बात सामने आई वो ये थी कि दिशा और उसकी कंपनी ने कुछ सेलिब्रिटी से शूट के लिए एडवांस लिए थे. ये पैसे उन्हें वापस लौटाने थे. दिशा पैसे नहीं लौटा पा रही थी. और इसी वजह से वो परेशान थी. पुलिस का मानना है कि दिशा की खुदकुशी के पीछे यही वजह थी.

तो फिर सुशांत को दिशा की मौत में फंसाए जाने का डर क्यों था? तो सूत्रों के मुताबिक ये डर रिया ने सुशांत के दिल में बिठाया था. दरअसल, लॉक डाउन में तीन महीने साथ रहने के दौरान रिया और सुशांत के बीच कई बार झगड़े हुए. लेकिन फिर झगड़ा सुलझ जाता था. मगर 8 जून को दिशा की मौत के बाद ये झगड़ा ज़्यादा बढ़ गया. इसी के बाद रिया अपना सारा सामान साथ में सुशांत के भी कई कागज़ात और दूसरे सामान लेकर वहां से चली गई. सुशांत के घरवालों का इल्ज़ाम है कि इन कागज़ात में सुशांत के इलाज के पेपर भी थे. जिनके दम पर रिया के धमकी दे रही थी कि इन कागज़ात को मीडिया में देकर वो उसे पागल करार दे देगी. फिर उसे फिल्मों में भी कोई काम नहीं देगा.

रिया को सुशांत करीब सात साल से जानते थे. दोनों की पहली मुलाकात 2013 में मुंबई के एक स्टूडियो में हुई थी. तब सुशांत यशराज फिल्म के शुद्ध देसी रोमांस की शूटिंग कर रहे थे. जबकि बराबर के ही स्टूडियो में रिया चक्रवर्ती मेरे डैड की मारुति फिल्म की शूटिंग कर रही थी. इसके बाद दोनों की मुलाक़ात कुछ फिल्मी पार्टियों में हुई. लेकिन तब सुशांत अंकिता लोखंडे के साथ लिव-इन में रह रहे थे.

अंकिता के साथ ब्रेकअप के बाद 2018 के आख़िर में सुशांत और रिया पहली बार करीब आते हैं. इसके बाद दोनों की एक साथ तस्वीरें आनी शुरू होती हैं. यानी सुशांत और रिया का रिश्ता करीब डेढ़ साल पुराना ही है. लेकिन एक अजीब बात ये हुई कि रिया की जिंदगी में आने के कुछ ही महीनों बाद 2019 से सुशांत का फिल्मी ग्राफ़ गिरने लगा. बड़े बजट और बड़े बैनर की फिल्में एक-एक कर हाथ से जाने लगी और ये वही वक़्त था, जब अच्छे खासे सुशांत को पहली बार रिया की ज़िंदगी में आने के बाद मनोचिकित्सक के पास जाना पड़ा.

दरअसल, रिया अकेले सुशांत की ज़िंदगी में नहीं आई थी. रिया की मां संध्या चक्रवर्ती, पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, भाई सौविक चक्रवर्ती और रिया की ख़ास दोस्त सैमियल मिरंडा भी लगातार सुशांत के इर्द गिर्द थे. यहां तक कि 2019 में ही सुशांत ने जो कंपनी खोली, उन कंपनियों में भी रिया और उसका भाई डायरेक्टर के तौर पर शामिल थे.

सुशांत और रिया इसी साल शादी भी करने वाले थे. मगर कोरोना की वजह से शादी टल गई. खुद सुशांत के पिता ने बताया कि आखिरी बार उनकी सुशांत से बातचीत हुई थी, तब सुशांत ने कहा था कि वो अगले साल फरवरी मार्च में शादी करेगा. अब सवाल ये है कि जब बात शादी तक पहुंच चुकी थी, तो फिर रिया और सुशांत के बीच ऐसा क्या हुआ, जिसकी वजह से आज रिया के ऊपर गिरफ्तारी तक की तलवार लटकी हुई है.

सुशांत के पिता और बहन के इलज़ाम के हिसाब से रिया सिर्फ और सिर्फ पैसों और फिल्मी करियर को आगे बढ़ाने के लिए सुशांत की जिंदगी में आई थी. उसके आते ही साल भर के अंदर सुशांत ड़िप्रेशन के मरीज हो गए. बैंक बैलेंस लगभग खत्म हो गया. लेकिन एक वजह और थी जिससे रिया को डर लग रहा था. मार्च से पहले तक सुशांत और रिया की ज़िंदगी ठीक-ठाक चल रही थी.

मगर मार्च से 8 जून तक जब दोनों एक साथ रह रहे थे, झगड़ा वहीं से शुरू होता है. इस दौरान सुशांत पुरानी गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे के साथ भी दोबारा चैट शुरू कर चुके थे. सुशांत अपनी परेशानी अंकिता से शेयर करते थे. सुशांत और अंकिता के बीच इस बातचीत की जानकारी साथ रहने के दौरान रिया को भी लग चुकी थी. सूत्रों के मुताबिक अंकिता से बातचीत बंद कराने के लिए रिया ने सुशांत के मोबाइल के कई नंबर तक बदलवा दिए थे.

इसी बीच रिया सुशांत पर एक और दबाव बना रही थी. दबाव ये कि वो अपनी फिल्मों में लीड हीरोइन का रोल उसे ही दिलवाए. वरना फिल्म करने से मना कर दे. सुशांत को कंपनी खोलने और उसमें पैसे लगाने के लिए भी रिया ने ही दबाव बनाया था. मगर सुशांत फिल्म इंडस्ट्री से दूर ऑर्गेनिक खेती के पेशे में उतरना चाहते थे. ये बात भी रिया को नागवार गुज़री थी. रिया को इस बात का भी डर था कि सुशांत कहीं फिर से अंकिता के पास ना लौट जाए. इन्हीं सब चीज़ों ने दोनों के रिश्ते बेहद खराब कर दिए थे. इतने खराब कि 8 जून को रिया सुशांत को छोड़ कर हमेशा हमेशा के लिए चली गई और उसके ठीक छह दिन बाद 14 जून को सुशांत ने दुनिया छोड़ दी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here